दमदार डायलॉग और बेहतरीन परफॉर्मेंस से भरी है फिल्म जॉली एलएलबी 2

akshay kumar film review of jolly llb 2

akshay kumar film review of jolly llb 2बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार वैसे तो अवॉर्ड में यकीन नहीं रखते है लेकिन हा एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि उनकी बीवी ट्विंकल खन्ना उन्हें नेशनल अवॉर्ड नही मिलने पर ताना मारते रहती है। ऐसे में फिर साल 2017 में अक्षय कुमार एक बेहतरीन फिल्म का सीक्वल लेकर आये है जिसका पहला पार्ट फिल्म जॉली एलएलबी नेशनल अवॉर्ड जीत चुकी हैं। फिल्म जॉली एलएलबी 2 से अक्षय कुमार नेशनल अवॉर्ड जीत पाते है या नही यह कहना मुश्किल होगा, लेकिन वो इस फिल्म के जरिये लोगों का दिल अवश्य जीत लेंगे इस बात की गारन्टी हैं। यदि आप इसकी तुलना पहली फिल्म जॉली एलएलबी से ना करें तो। क्योंकि फिल्म के डायरेक्टर सुभाष कपूर ने अपनी उस फिल्म जरिये पहली बार बॉलीवुड के इतिहास में कोर्ट रूम की असली जिन्दगी आम लोगो के सामने रखी थी। फिल्म की कहानी के साथ ही कोर्ट रूम का असली जिन्दगी फिल्म को नया पहचान दे गया। ऐसे में डारेक्टर सुभाष कपूर एक बार फिर कोर्ट रूम ड्रामा लोगो के सामने लेकर आये है। लेकिन इस बार अरशद वारसी को रिप्लेस कर अक्षय कुमार को लिया गया है।

बात की जाये फिल्म जॉली एलएलबी 2 की कहानी की तो जगदीश्वर मिश्रा उर्फ़ जॉली यानि की अक्षय कुमार एक वकील के यहा काम कर चुके मुंशी का लड़का है जो देश का सबसे बड़ा वकील बनाना चाहता हैं। पढाई करने के बाद जॉली ने एलएलबी की डिग्री तो हासिल कर ली हैं लेकिन कोई भी उसको काबिल वकील नहीं समझता था। ऐसे में जॉली का यह मानना था कि वो कामयाब तभी बन सकेगा जब उसके पास भी अपना एक चेम्बर होगा। लेकिन इस चेम्बर को पाने के लिए उसको 12 लाख रूपये की मोटी रकम देनी है जिसके प्रयास के लिए जॉली हर समय कोशिश करता हैं। इसी कोशिश दौरान वह एक ऐसा काम को अन्जाम देता हैं जिसकी वजह से उसकी इज्जत के साथ साथ उसके मुंशी पिता की इज्जत भी धूल मे मिल जाती हैं। खोई हुयी इज्जत पाने और अपनी गलती का पश्चाताप करने के लिए जॉली उस केस को लड़ने के लिए मैदान में कूद पड़ता हैं जिससे हर वकील भागता हैं। फेक एनकाउंटर की खुलासा करने चले जॉली को अंदाजा नहीं होता है कि सिस्टम में मौजूद भ्रष्ट अधिकारी लोग अपना गला बचाने के लिए जॉली के इतने बुरे तरीके से पीछे पड़ जाएंगे कि बात उसकी जान जाने तक बन जाएगी। लेकिन अपनी बहादुरी और दिलेरी के चलते जॉली उस केस को बड़ी मुश्किल से जीत जाता हैं। जिसे देखने के बाद लोगो के चेहरे पर मुस्कान छा जाती है।

यदि बात की जाए फिल्म की खूबियों कि तो डायरेक्टर सुभाष कपूर ने एक बार फिर से परफेक्ट कोर्ट रूम ड्रामा जबरदस्त डायलॉग और लाजवाब एक्टर्स के अदाकारी के साथ सजी फिल्म लोगो के सामने लेकर आये हैं। कॉमेडी अंदाज़, बेहतरीन डायलॉग और स्टार पॉवर के दम के साथ खिलाड़ी अक्षय कुमार ने जॉली के रोल के साथ ही न्याय करने की पूरी कोशिश की हैं। मस्तमौला रूप और बेधड़क जज का रोल करने वाले सौरभ शुक्ला ने शानदार तरीके से निभाया हैं हर सीन में सौरभ शुक्ला अपनी अदाकारी का छाप छोड़ते हैं और फैन्स के चेहरों पर मुस्कान लाते हैं। वही अक्षय कुमार के अपोजिट वकील सचिन माथुर के रोल में अन्नू कपूर अपने तीखे और चुभनशील संवाद से फिल्म की कहानी में एक नया जोश और पैनापन लाते हैं और कुछ जगहों पर अक्षय पर भारी भी पड़ते हुये दिखाई देते हैं। अक्षय कुमार की बीवी का रोल निभाने वाली हुमा कुरैशी भी अच्छी लगती हैं। उत्तर प्रदेश की बोली बोलने वाली हुमा का भी रोल काबिले तारीफ हैं। लगभग हर कलाकारों ने फिल्म मे अच्छा प्रदर्शन किया हैं।
कुल मिलाकर बात की जाये तो फिल्म जॉली एलएलबी 2 एक अच्छी और कामेडी फिल्म है। कोर्ट रूम ड्रामें से निर्मित ऐसी फिल्में को देखने का अवसर बॉलीवुड में बहुत कम मिलता हैं। ऐसे इस फिल्म को लोगो का साथ जरुर मिलना चाहिए। हम इस फिल्म को 5 में से 3 स्टार रेटिंग देते है।

 

Glamras.com से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पेज लाईक करें.....