1 अप्रैल से नही होगा 3 लाख से ज्यादा का कैश ट्रांजेक्शन

cash transactions above-rupees 3 lakh banned

cash transactions above-rupees 3 lakh bannedकालेधन के खिलाफ इस लड़ाई को आगे बढ़ाते हुए वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली ने आज वित्त साल 2017 और 2018 के बजट में आगामी 1 अप्रैल 2017 से 3 लाख रुपए से अधिक राशि के सभी प्रकार के नकदी लेनदेन पर रोक लगाने का प्रस्ताव किया।

अरूण जेटली ने अपने बजट भाषण दौरान कहा कि एक तय की गई सीमा से अधिक के नकदी लेनदेन पर रोक कालेधन पर घटित विशेष जांच दल ,एसआईटी के द्वारा की गई सिफारिशों के आधार पर लगाया जा रहा है, और एसआईटी का गठन उच्चतम न्यायालय ने किया था। फिर उन्होंने कहा कि 3 लाख रुपये से ज्यादा के सभी प्रकार के नकदी लेनदेन पर प्रतिबंध किया जा रहा है।

न्यायमूर्ति एम बी शाह सेवानिवृत्त की गई अगुवाई वाली एसआईटी ने कालेधन पर अंकुश लगाने पर अपनी पांचवीं रिपोर्ट जुलाई 2016 में उच्चतम न्यायालय के पास दी थी।
एसआईटी ने 3 लाख रुपये से अधिक के नकदी लेनदेन को प्रतिबंधित करने का सलाह देते हुए कहा था कि इस प्रकार के लेनदेन को गैरकानूनी मानना तथा कानून के तहत दंडात्मक करने के लिए भी एक कानून बनाया जाना चाहिए।