एंटरटेनमेंट जगत और राजनीति दोनों जगह होता है यौन शेषण – शत्रुघ्न सिन्हा

Shatrughan Sinha casting couch

Shatrughan Sinha casting couchबॉलीवुड कोरियोग्राफर सरोज खान और वरिष्ठ कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी के बाद अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा के बयान से एक नया विवाद खड़ा होता नजर आ रहा है। भाजपा सांसद सिन्हा ने एंटरटेनमेंट जगत और राजनीति दोनों में यौन शेषण होने की बात कही है।

सिन्हा ने कहा कि न तो सरोज खान गलत हैं और न ही रेणुका चौधरी गलत हैं। फिल्म इंडस्ट्री हो या राजनीति दोनों ही जगह सेक्सुअल फेवर मांगे जाते हैं और कुछ लोग इसे गलत भी नहीं समझते। यह तरक्की की सीढ़ियां चढ़ने के लिए पुराना और जांचा परखा नुस्खा है। ‘आप मेरा ध्यान रखिए, मैं आपका ध्यान रखूंगा’ की नीति है। इसमें परेशान होने जैसा कुछ नहीं है।

सरोज खान का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि माधुरी दीक्षित, श्रीदेवी और रेखा के करियर में खान का काफी बड़ा योगदान है। वह एक लीजेंड से कम नहीं हैं। वह अपने दिल से बोलती हैं, इसलिए भावुकता में ऐसी बातें भी कह जाती हैं जो कड़वी लगती हैं। अगर उन्होंने कहा है कि बॉलीवुड में लड़कियों को चरित्र के साथ समझौता करना पड़ता है, तो उन्हें जरूर पता होगा कि इंडस्ट्री में आखिर क्या चलता है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि वह सरोज खान और रेणुका चौधरी की बात से पूरी तरह सहमत हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में यौन शोषण को कास्टिंग काउच कहा जाता है, मगर राजनीति में शोषण को क्या कहा जाना चाहिए उन्हें नहीं पता। उनके मुताबिक इसे कास्टिंग-वोट काउच कहा जा सकता है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कास्टिंग काउच का शिकार होना या नहीं होना व्यक्ति के खुद के ऊपर है। कोई किसी के साथ जबरदस्ती नहीं करता है।