मुझे पता होता है मुझे क्या चाहिए : ज़ोया अख्तर

Zoyaमौजूदा समय के सबसे प्रतिभाशाली निर्देशकों में से एक ज़ोया अख्तर ने अपनी फिल्म दिल धडक़ने दो को लेकर हमसे खास बातचीत की। फिल्म का प्रीमियर शनिवार 24 अक्तूबर, को रात 8 बजे ज़ी सिनेमा पर हो रहा है। जाने-पहचाने से किरदारों और प्रियंका चोपड़ा, अनिल कपूर, फरहान अख्तर, रणवीर सिंह और अनुष्का शर्मा जैसे बड़े सितारों के अभिनय से सजी फिल्म दिल धडक़ने दो एक पारिवारिक मनोरंजक फिल्म है जिसकी कहानी एक प्यारे से कुत्ते की जुबानी सुनाई गई है।

प्रश्न – प्लूटो (कुत्ते का किरदार) की आवाज बनने के लिए आमिर खान को राजी करना कितना आसान रहा?
ज़ोया अख्तर – मैं आमिर के साथ वाकई लकी रही हूं। मैं उन्हें हमेशा अपनी फिल्म के दृश्य दिखाती थी क्योंकि वे बड़ी ईमानदारी और साफगोई से सलाह देते हैं और कभी भी फिल्म के बारे में बढ़ा-चढ़ाकर बातें नहीं करते हैं। उन्हें वह फिल्म काफी पसंद आई। मैंने उनसे पूछा कि क्या वे प्लूटो की आवाज बनेंगे और वे तुरंत मान गए।

प्रश्न – क्रूज पर फिल्म की शूटिंग करने का कैसा अनुभव रहा?
ज़ोया अख्तर – यह वाकई बेहद मुश्किल काम था लेकिन साथ ही बेहद खूबसूरत भी था। हमें शिप के नियमों और उनके समय का पालन करना होता था जिससे हमारे सामने कुछ मुश्किलें आईं। हमें दूसरे यात्रियों के आसपास काम करना होता था। कभी हमें लगता था कि किसी भी चीज पर हमारा नियंत्रण नहीं है। लेकिन यह खूबसूरत था क्योंकि हमने भूमध्यसागर से लेकर अफ्रीका तक की यात्रा करते हुए एक हफ्ते जहाज में बिताए। सारे सदस्य पूरे समय एक साथ रहते थे और इससे उनके बीच एक मजबूत रिश्ता बन गया। खुली हवा में सांस लेती डॉल्फिन्स और व्हेल्स के बीच काम करना वाकई शानदार अनुभव था जो जिंदगी में केवल एक बार ही होता है।

प्रश्न – सभी कलाकारों में आपका पसंदीदा एक्टर कौन-सा है?
ज़ोया अख्तर – मैं किसी एक पसंदीदा एक्टर को नहीं चुन सकती क्योंकि मेरा हर एक्टर के साथ खास अनुभव रहा। साथ ही ये सभी बेहतरीन परफॉर्मर्स हैं और पूरी तरह पेशेवर। लेकिन यदि आप मेरी कनपटी पर बंदूक रखकर पूछेंगे तो मैं प्लूटो को चुनूंगी।

प्रश्न – हरेक एक्टर ने कहा कि आप उन बेहतरीन निर्देशकों में से एक हैं जिनके साथ काम करना मजेदार होता है? आपके लिए निर्देशन कितना आसान है?
ज़ोया अख्तर – मुझे स्पष्ट पता होता है कि मुझे असल में क्या चाहिए लेकिन जब मुझे पता नहीं होता तो मैं अपने एक्टर्स से कह देती हूं और फिर हम साथ मिलकर उस दृश्य को तैयार करते हैं।

प्रश्न – दिल धडक़ने दो में आपने संगीतकार शंकर, एहसान और लॉय के साथ काम किया है? फिल्म का संगीत तैयार करने को लेकर आपके क्या अनुभव रहे?
ज़ोया अख्तर – मुझे उनके साथ काम करना बेहद पसंद है क्योंकि जब संगीत के बारे समझाने की बात आती है तो मैं उतनी अच्छी तरह इसे नहीं कर पाती। वे मेरे बिखरे हुए संकेतों को समझ जाते हैं। इसलिए मुझे लगता है कि हमारे बीच एक खास आपसी समझ है।